टाइफाइड क्या होता है और इसके क्या लक्षण

October 22, 2019

 |  No Comments

नमस्कार दोस्तों इस पोस्ट में हम जानेंगे कि टाइफाइड क्या होता है और इसके क्या लक्षण है और टाइफाइड से बचाव के क्या-क्या उपाय हैं, तो चलिए शुरू करते हैं|

टाइफाइड क्या है
टाइफाइड साल्मोनेला नामक बैक्टीरिया से फैलता है| यह बुखार का एक प्रकार है जो कि इंफेक्शन की वजह से होता है, इसे हड्डियों की बुखार भी कहा जाता है| प्रत्येक वर्ष विश्व में लगभग 20 मिलियन से भी ज्यादा लोग टाइफाइड से ग्रसित होते हैं, और लगभग 220000 लोग टाइफाइड की वजह से मर जाते हैं| यह शुरुआत में बहुत हल्का हल्का असर करता है, इसीलिए इसके लक्षण पहचानने में काफी समय लग सकते हैं|

टाइफाइड के लक्षण
जैसा कि हमने पहले ही जान लिया है, कि टाइफाइड के लक्षण जानने में समय लगता है| तो किसी व्यक्ति के शरीर में टाइफाइड के बैक्टीरिया जाने के लगभग 5 से 15 दिन बाद टाइफाइड के लक्षण नजराना शुरू होते हैं, और इन लक्षणों को पहचानना बहुत ही मुश्किल होता है| नीचे दिए गए लक्षणों में से यदि आपको लगता है, कि कोई भी आपसे मेल खा रहा है तो आपको तुरंत अपने पास के डॉक्टर के पास जाना है, और वहां पर अपने खून का जांच कराना है| क्योंकि बिना खून की जांच कराएं हम कंफर्म रूप से नहीं कह सकते, कि आपको टाइफाइड हुआ है या नहीं| यदि जांच की रिपोर्ट में टाइफाइड पॉजिटिव आता है, तो आप उसका उचित उपचार करवाए और आराम करें टाइफाइड के बुखार में आराम करना बहुत ही जरूरी होता है| क्योंकि जितना आप आराम करेंगे उतनी जल्दी ही आपको दवा असर करेगी|

टाइफाइड के लक्षण निम्नलिखित हैं

सिर में दर्द
यदि आपको टाइफाइड हो गया है तो आपके सिर में लगातार दर्द होता रहेगा|

बुखार
यदि आपको टाइफाइड हो गया है तो आप को बुखार आएगा, और बुखार जब आएगा तब आपको बहुत तेज ठंड लगेगा|

थकान महसूस होना
टाइफाइड हो जाने पर पूरे शरीर में एक थकान से बना रहता है, आपको कोई कार्य करने का मन नहीं करेगा सिर्फ आलस्य आएगा|

मन घबराना
टाइफाइड के लक्षणों में से एक विशेष लक्षण यह भी है कि रोगी का मन विचलित रहता|

भूख ना लगना
भूख ना लगना भी टाइफाइड के लक्षणों में से एक है|

शरीर में दर्द होना
टाइफाइड के बुखार में पूरे शरीर में दर्द बना रहता है|

टाइफाइड होने के मुख्य कारण
टाइफाइड होने के मुख्य कारणों में से कुछ निम्नलिखित है|

दूषित जल
दूषित पानी पीने से टाइफाइड की बीमारी होती है, यदि आप किसी ऐसे स्रोत से पानी ले आते हैं, जहां पर पानी शुद्ध रूप से फिल्टर नहीं होता है| तो आपको टाइफाइड हो सकता है, यदि आप पानी को फिल्टर नहीं कर पाते, तो पानी को पीने से पहले उबाल कर एक बार छान ले|

बासी भोजन करने से
बासी भोजन करने से भी टाइफाइड का रोग हो सकता है, क्योंकि यदि आप भोजन को कई दिनों तक रखे रहेंगे तो उसमें टाइफाइड की बैक्टीरिया साल्मोनेला उत्पन्न हो जाएगी |

बचाव के उपाय

  • पानी को उबालकर और छानकर पीएं
  • बासी खाना ना खाएं
  • सेब का सिरका टाइफाइड के बुखार से बचने का सबसे
  • अच्छा तरीका में से एक है
  • अदरक का काढ़ा पीने से टाइफाइड का बुखार नहीं होता है

उम्मीद है दोस्तों आपको इस पोस्ट से टाइफाइड क्या है और यह कैसे होता है तथा इसके घरेलू बचाव के उपाय के बारे में जरूर पता चल गया होगा यदि आपको कोई प्रश्न पूछना है तो नीचे कमेंट करके पूछे|

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *